सरस्वती पूजा के दौरान भूलकर भी न करें ये काम

Thursday, Oct 06, 2022 | Last Update : 07:04 AM IST


सरस्वती पूजा के दौरान भूलकर भी न करें ये काम

इस साल सरस्वती पूजा ९ और १० फरवरी को मनाई जा रही है। देश के कुछ भागों में चतुर्थी तिथि ९ तारीख को दोपहर से ही समाप्त हो जा रही है और पंचमी तिथि शुरू हो रही है और १० तारीख को पंचमी तिथि २ बजकर ९ मिनट तक रहेगी। इस कारण सरस्वती व बसंत पंचमी दो दिन मनाई जा रही है।
Feb 9, 2019, 2:08 pm ISTFestivalsAazad Staff
Maa Saraswati
  Maa Saraswati

बसंत पंचमी (Basant Panchami) के दिन मां सरस्वती की पूजा होती है। इसी वजह से इस दिन को सरस्वती पूजा के नाम से भी जनाता जाता है।  हिंदु धर्म में प्रचलित कथा के मुताबिक बसंत पंचमी (Basant Panchami 2019) के दिन ही ब्रह्मा जी ने मां सरस्वती (Maa Saraswati) की सरंचना की थी।

सरस्वती पूजा के दिन इन बातों का रखे ख्याल -

सरस्वती पूजा यानि वसंत पंचमी प्रत्येक इंसान को सुबह उठते ही बिना स्नान किए भोजन नहीं करना चाहिए। स्नान करने के बाद मां की पूजा करनी चाहिए। पूजा में मां को हलवा या खीर का भोग लगाना चाहिए।

पूजा पाठ के दौरान काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए। सरस्वती पूजा यानि वसंत पंचमी के दिन पीले या सफेद रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

आज के दिन वृक्षों या पौधों की कटाई नहीं करनी चाहिए।

और ये भी पढ़े : देश भर में मां सरस्वती पूजा की धूम, जाने इस दिन का क्या है महत्व

सरस्वती पूजा के दिन कलह से दूर रहे।कहते हैं कि इस दिन घर में कलह करने से घर में अशांति रहती है। जिससे मां रूठ जाती हैं।

किसी को अपशब्द या गलत नहीं बोलना चाहिए

शराब-मांस किसी भी तरह के मांसाहार भोजन का सेवन नही करना चाहिए।

...

Featured Videos!