दिवाली पर रंगोली का महत्व

Saturday, Apr 20, 2024 | Last Update : 11:49 AM IST

दिवाली पर रंगोली का महत्व

कार्तिक मास की अमावस्या पर इस बार 7 नवंबर 2018 को दिवाली का पर्व विश्वभर में धूम-धाम से मनाया जाएगा। दिवाली पर रंगोली बनाने का एक अलग ही महत्व है। दिवाली के दिन घर में रंगोली इसलिए बनाई जाती है ताकि मां लक्ष्मी का घर में आगमन हो।  
Oct 30, 2018, 3:32 pm ISTLifestyleAazad Staff
Rangoli
  Rangoli

दिवाली के मौके पर हर घर में दिए जलाए जाते है। साथ ही हर घर के आंगन और मुख्य द्वार पर रंगोली बनाने की भी परंपरा है। लोग सुंदर रंगों से अपने घरों में रंगोली बनाते हैं। ऐसा माना जाता है कि दिवाली के दिन घर व आंगन में रंगोली बनाने से घर में मां लक्ष्मी का आगमन होता है।

रंगोली शब्द संस्कृत के एक शब्द 'रंगावली' से लिया गया है। इसे अल्पना भी कहा जाता है। भारत में इसे सिर्फ त्योहारों पर ही नहीं, बल्कि शुभ अवसरों, पूजा आदि पर भी बनाया जाता है। इससे जहां आने वाले मेहमानों का स्वागत होता है, वहीं भगवान के प्रसन्न होने की कल्पना भी की जाती है।

पौराणिक कथा-
हिंदू शास्त्रों के मुताबिक माना जाता है कि रावण का वध करने के पश्चात जब श्रीराम अपनी पत्नी सीता के साथ 14 वर्षों का वनवास व्यतीत करके अयोध्या वापस लौट रहे थे, तब अयोध्या वासियों ने उनका पूरे हर्षोल्लास से स्वागत किया था। लोगों ने अपने घरों की साफ-सफाई करके उन्हें स्वच्छ बनाकर रंगों तथा फूलों की मदद से रंगोली बनाई थी और घर को दीपक से रंगोली को सजाया था, इसलिए तब से ही दीपावली पर रंगोली और दिए जलाने का नियम बन गया।

...

Featured Videos!