Ghategi rahasymayi ghatnaye!

Monday, Dec 05, 2022 | Last Update : 01:11 PM IST


घटेंगी रहस्यमयी घटनाएं!

एण्डटीवी के शोज ‘बाल शिव‘, ‘और भई क्या चल रहा है?‘, ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ और ‘भाबीजी घर पर हैं‘ के किरदार इस हफ्ते बड़ी चुनौतियों का सामना करेंगे।
Jun 28, 2022, 1:22 pm ISTEntertainmentAazad Staff
Bal Shiv

एण्डटीवी के शोज ‘बाल शिव‘, ‘और भई क्या चल रहा है?‘, ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ और ‘भाबीजी घर पर हैं‘ के किरदार इस हफ्ते बड़ी चुनौतियों का सामना करेंगे। एण्डटीवी के ‘बाल शिव‘ की कहानी के बारे में सुमति ने बताया, ‘‘ऋषि कात्यायन (मनोज कोल्हातकर) बाल शिव (आन तिवारी) को कष्ट देने का प्रयास करते हैं, जिससे देवी कात्यायनी (तृशा आशीष सरदा) क्रोधित हो जाती हैं। दूसरी ओर, ताड़कासुर (कपिल निर्मल) को दण्डपाणि पर गुस्सा आता है, क्योंकि वह बाल शिव को खत्म नहीं कर पाया। अपनी बेटी को वापस पाने के लिये ऋषि कात्यायन अग्नि समाधि लेने का निर्णय करते हैं। दूसरी ओर, देवी कात्यायनी बाल शिव से कैलाश के बारे में पूछती हैं और बाल शिव उन्हें उस जगह की सुंदरता के बारे में समझाते हैं। बाल शिव देवी कात्यायनी को अमरनाथ ले जाने के लिये महासती अनुसुइया से अनुमति मांगते हैं, जिससे वह चिंतित हो जाती हैं। नंदी और देवी कात्यायनी के साथ बाल शिव अमरनाथ के लिये रवाना होते हैं और मार्ग में उन्हें पिशाच दमपति मिलता है, जो उनके साथ जाने का अनुरोध करता है। ताड़कासुर के आदेश पर दण्डपाणि उन सभी को अमरनाथ पहुँचने से रोकने के लिये ऋषि कात्यायन को आदिशक्ति दिव्यास्त्र का प्रयोग करने के लिये उकसाता है।

जब बाल शिव अमरनाथ की सीमा पर पहुँचते हैं, तब ऋषि कात्यायन के अनुरोध पर योगिनियाँ देवी कात्यायनी को बाल शिव से अलग करने का प्रयास करती हैं। बाल शिव उन्हें कैसे रोकेंगे और देवी कात्यायनी को कैसे अमरनाथ लेकर जाएंगे?’’ एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है?‘ की कहानी के बारे में ज़फर अली मिर्ज़ा ने बताया, ‘‘सकीना (अकांशा शर्मा) द्वारा बनाये गउ मांसाहारी खाने की महक से शांति (फरहाना फातेमा) को गुस्सा आ जाता है। सकीना मोहल्ले में फिश पार्टी रखती है और इससे दोनों के बीच काफी झगड़ा होता है। इस बीच, आदि आॅफर देता है कि वह हवेली की आधी रकम देगा और जो परिवार बाकी आधी रकम देगा, हवेली उसकी हो जाएगी। मिर्ज़ा (पवन सिंह) और मिश्रा (अंबरीश बाॅबी), दोनों ही 50 लाख रूपये जुटाना शुरू करते हैं। जो परिवार पैसा नहीं जुटा पाएगा, उसे हवेली छोड़नी होगी! बिट्टू (अन्नू अवस्थी) मिश्रा और मिर्ज़ा के लिये एक प्लान बनाता है और उन्हें बेवकूफ बनाता है। इस बीच, मिश्रा हवेली का एक कोना तोड़ देता है, जहाँ एक एंटीक को देखकर सभी चैंक जाते हैं। हवेली में एएसआई आता है और हवेली पर एक नोटिस चिपकाकर उसे सील कर देता है, यह जाँचने के लिये कि हवेली को सरकारी धरोहर घोषित किया जाना चाहिये या नहीं।’’

एण्डटीवी के ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ की कहानी के बारे में दरोगा हप्पू सिंह ने बताया, ‘‘राजेश (कामना पाठक) हप्पू (योगेश त्रिपाठी) से एक एयर कूलर की मांग करती है, लेकिन कटोरी अम्मा (हिमानी शिवपुरी) उसके आइडिया को खारिज कर देती हैं। राजेश चिढ़कर गब्बर और बिमलेश (सपना सिकरवार) की मदद से एक नकली कहानी बनाती है कि वह एक जलपरी है और उसे जिंदा रहने के लिये ठंडा माहौल चाहिये। हप्पू समेत सभी लोग उसकी बात मान लेते हैं और पूल-साइज के एक बड़े टब का जुगाड़ करते हैं और उसमें बर्फ डालते रहते हैं। हप्पू कमिश्नर (किशोर भानुशाली) को बताता है कि राजेश एक जलपरी है। कमिश्नर हप्पू को चेतावनी देता है कि यह बात वह किसी को न बताए, लेकिन पत्रकार बन चुका कमलेश (संजय चैधरी) राजेश के जलपरी होने की स्टोरी को कवर करता है, जो वायरल हो जाती है।

हर कोई राजेश से इसके बारे में पूछने लगता है, जिससे हप्पू और राजेश के लिये बड़ी परेशानी खड़ी हो जाती है। अब हप्पू क्या करेगा?’’ एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ की कहानी के बारे में विभूति नारायण मिश्रा ने बताया, ‘‘मास्टरजी (विजय कुमार सिंह) को नैनीताल जाना है और वह विभूति (आसिफ शेख) से स्कूल में अपना छुट्टी का आवेदन देने के लिये कहते हैं। इस बीच प्रेम (विश्वजीत सोनी) विभूति को बक्शी की पार्टी में बुलाता है और उसी समय अनीता (विदिशा श्रीवास्तव) विभूति को तिवारी (रोहिताश्व गौड़) के घर डिनर के बारे में बताती है! विभूति अनीता से झूठ बोलता है कि मास्टरजी को निमोनिया है और उसे अस्पताल जाना है। बाद में मास्टरजी किसी कारण से उनके घर आते हैं और विभूति का प्लान पकड़ा जाता है। अनीता विभूति को 20 मिनट में घर आने का अल्टीमेटम देती है और शाॅर्टकट से आते हुए विभूति एक कब्रिस्तान के रास्ते पर आ जाता है। चलते-चलते विभूति अनजाने में मनहूस कानपुरी की कब्र पर थूक देता है। फिर मनहूस कानपुरी का भूत विभूति के शरीर में घुस जाता है और अपनी मनहूस शायरी शुरू कर देता है। विभूति खुद को मनहूस कानपुरी के भूत से कैसे छुड़ाएगा?’’

देखिये ‘बाल शिव’ रात 8ः00 बजे, ‘और भई क्या चल रहा है?’ रात 9ः30 बजे, ‘हप्पू की उलटन पलटन’ रात 10ः00 बजे और ‘भाबीजी घर पर हैं’ रात 10ः30 बजे, हर सोमवार से शुक्रवार, केवल

...

Featured Videos!